एक किसान पुत्र की संघर्षमय कहानी

सोनकच्छ तहसील के एक छोटे से गाँव लोंदिया में जन्मे श्री नरेंद्र सिंह राजपूत पिछले २२ से २५ वर्षों से देवास जिले के ग्रामीण परिवेश में भाजपा के सजग प्रहरी के रूप में अपनी सतत सेवाएँ दे रहे है। महज़ 18 वर्ष की छोटी सी आयु में श्री राजपूत अपने निज ग्राम के 3 बार पंच रहे। तब से ही उनमे नेतृत्व क्षमता का ऐसा विकास हुआ जिसका आज हर कोई दीवाना है। बस वहीं से उनकी राजनितिक यात्रा कुछ ऐसे शुरू हुई के अपनी युवावस्था में ही श्री राजपूत ने अपने ग्राम के सरपंच के रूप में पद भार ग्रहण किया।

अब संगठन में अपना पूरा समय देने के साथ – साथ श्री नरेंद्र सिंह राजपूत जनता के बीच भी अपनी उपस्थिति को बढ़ाने लगे। परिणामस्वरूप 2005 में वे जनपद पंचायत अध्यक्ष के रूप में निर्वाचित हुए और उन्होंने अपनी सीमाओं को बढ़ाया। समय के साथ – साथ श्री राजपूत देवास जिले के ग्रामीण क्षेत्र में अब अपना अंगद का पांव जमा चुके थे, यही कारण रहा की 2010 में वे कृषि समिति के अध्यक्ष के साथ – साथ देवास जिला पंचायत के सदस्य के रूप में निर्वाचित हुए।

श्री राजपूत यहीं नहीं रुके, जनता के लिए कुछ करने की इस ही ललक ने उन्हें सभी का चहेता बना दिया और इस ही के चलते जनता के आशीर्वाद से वे वर्ष 2015 में देवास जिला पंचायत के अध्यक्ष जैसे बढ़े दायित्व के निर्वहन के लिए चुने गए। उनका 8 वर्षों का यह कार्यकाल उल्लेखनीय रहा, जिला पंचायत अध्यक्ष रहते हुए श्री राजपुत ने समूचे देवास जिले की करीब 500 पंचायतों में जो विकास कार्य करवाए उनको वहां की जनता भुलाए नहीं भूल सकती।

इस बीच कई बार ऐसा मौका भी आया जहाँ श्री राजपूत ने चुनावो के चलते श्री नरेंद्र मोदी (तत्कालीन गुजरात मुख्यमंत्री) के साथ मंच साझा किया। समय – समय पर पार्टी उन्हें विभिन्न चुनावों के लिए दायित्व देकर एक रणनीतिकार के रूप में मैदान में उतारती रही और श्री राजपूत अपनी अद्भुद नेतृत्व क्षमता से पार्टी को चाहे नगर पंचायत चुनाव हो या विधनसभा चुनाव आदि चुनावों में विजय श्री दिलवाने में अपना महत्वपूर्ण योगदान निभाते रहे।

आज भी श्री नरेंद्र सिंह राजपुत अपने सामाजिक दायित्वों को निभाते हुए पार्टी व जनता की अनवरत सेवा करते दिखाई दे रहें हैं। पूर्व में ज़िला पंचायत अध्यक्ष संघ मध्यप्रदेश के अध्यक्ष रहे श्री राजपूत वर्तमान में मप्र की अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के अध्यक्ष होने के साथ – साथ भाजपा स्थानीय निकाय प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक के रूप में भी सतत अपना समय जनता के बीच दे रहें हैं। कार्यकर्ताओं व जनता से सदैव जीवंत सम्पर्क स्थापित रखने वाले, उनकी समस्याओं को अपनी समस्या मान कर हल करने वाले श्री राजपूत को जनता आगे भी ऐसे ही उनका प्रतिनिधित्व करते हुए देखना चाह रही है।

Scroll to Top